Mobile

I Am Not A Robot CAPTCHA क्या है !

I Am Not A Robot CAPTCHA क्या है !

लाइफ में कभी भी आपको भी वेबसाइट विजिट करेंगे गूगल पर अकाउंट बनाएंगे या कोई भी वेबसाइट पर कहीं पर भी अकाउंट बनाएंगे तब को इन तरीकों के CAPTCHA देखने को मिलेंगे उनको बोला जाता है आपकी छोटी-छोटी एग्जाम हो रही है रुको रुको कभी सोचा यह कैप्चस मुझे दिखाएं क्यों जाते हैं

क्यों मुझे बार-बार दिखा दिखाकर मेरा टाइम वेस्ट किया जा रहा है इससे होता क्या है तो इसमें मै आपको बताऊंगा यह CAPTCHA क्या है क्यों लाया गया और इससे होता क्या है उसके पहले छोटा सा Example समझते हैं मानलो आईआरसीटीसी का नाम आपने सुना होगा इंडियन रेलवे में जितनी ट्रेन चल रही है सारी ट्रेनों के रिजर्वेशन जो है वो सब इसी वेबसाइट से होते हैं यहां पर आपको पता होगा तत्काल जो एक ऐसा सिस्टम है जिसमें ट्रेन में रिजर्वेशन आपको मिल जाता है 1 दिन पहले तो भईया 11:00 बजे स्लीपर क्लास का तत्काल खुलता है 10:00 बजे AC का खुलता है

अगर मुझे तत्काल में टिकट बुक करना है तो मैं क्या करूंगा 10:00 बजे बैठा रहूंगा या 11:00 बजे बैठा रहूंगा अब 11:00 बजे जैसे तत्काल ओपन होगा मैं जाऊंगा वेबसाइट पर लॉगइन करूंगा लोगिन करने के बाद सारी ट्रेन सिलेक्ट कर लूंगा कौन सी ट्रेन में करना है अपनी सारी डिटेल एंटर करूंगा फिर पेमेंट करूंगा इसमें मुझे लग जाएंगे एक से 2 मिनट मिनिमम से मिनिमम दो से 3 मिनट मुझे लगने वाले है ये टिकट बुक करने में लेकिन अगर उसके पहले और किसी ने कर दिया तो वह सारी टिकट ही उनके पास चली गई मेरे पास कुछ नहीं बचा|

तो यहां पर अगर मैं एक प्रोग्रामर हूं मेरा दिमाग कोडिंग में चलता है तो मै एक screept बना सकता हूं बोर्ड बना सकता हूं या बोले तो एक रोबोट बना सकता हूं

तो मुझे बस यह करना है सारी चीजें पहले से उसको बता कर रखूंगा बस मुझे 11:00 बजे script रन करनी है ऑटोमेटिकली जो चीजें मैं करता हूं मेरी script करेगी ।

वो जाएगी वेबसाइट पर लॉगिन करेगी ट्रेन सिलेक्ट करेगी सारी इनफार्मेशन भरेगी और फिर पेमेंट करेगी तो मै जो चीजे करता मुझे एक से दो मिनट लगते वह उस screept से उस रोबोट से उस code से ऑटोमेटिकली 10 सेकंड में करा लूंगा तो सारी चीज जो तत्काल टिकट मै 2 मिनट में करता वो सब अब 10 सेकंड में बुक हो जाएगी तो यहां पर सब से बड़ा confustion यही था सारी वेबसाइट वालों के लिए सारी चीजों के लिए इंटरनेट पर सारी दुनिया के लिए कैसे भैया पता लगाया जाए कि वह पार्टी कूलर ह्यूमन है मतलब रियल इंसान है बंदा है या फिर वह एक रोबोट है ताकि उस हिसाब से हमारी वेबसाइट के अंदर सारे प्रिकॉशन कर सके दरवाजा बंद कर सकें तो अगर scripts बन गई तत्काल खुलते ही खत्म हो जाएगा और लोगों तक चीजें नहीं पहुंचेंगे

यहां पर concept CAPTCHA लाया गया था CAPTCHA का फुल फॉर्म देखोगे तो होता है

Completely Automated Public Turing test to tell Computers and Humans Apart

इसको लाया ही इसलिए गया था कि जितनी स्पैमिंग हो रही है बहुत सारे रोबोट घूम रहे हैं बहुत सारी बॉट घूूम रही है ये हैं तो सारी वेबसाइट को ख़राब कर रहे मतलब एक एक सेकंड में लाख लाख रजिस्ट्रेशन कर रहे है जीमेल आईडी के अंदर बना रहे भर भर के आईडिया बन रही इन सबको रोकने के लिए लाया गया

इससे यह पता लगाया जाता है की आप एक ह्यूमन हो या एक रोबोट हो इसके अंदर जो पीछे टेक्नोलॉजी यूज होती है वह ये होती है कि भैया कैसे पता लगाया जाए तो यहां पर लोगों ने दिमाग लगाया 2003 में CAPTCHA डिजाइन हुआ है इसमें यह होता है आपको अलग अलग letters दिखाया जाता है यहां पर ह्यूमन अपनी आंखों से देख सकते हैं कि वह जो चीज है वह दिखा रहे हैं words दिखा रहे उसको टेडा मेडा कर देते हैं पीछे बहुत सही नॉइस डाल देते है ताकि एकदम से अगर कोई कंप्यूटर उसको पढ़े तो समझ ना पाए अपनी आंखों से समझ ले और उसको टाइप करके सबमिट करेग

Real Life. Real News. Real Voices

Help us tell more of the stories that matter

Become a founding member

भैया ह्यूमन हो कि एक रोबोट हो यहां पर यह बनने के बाद उसको और एडवांस कर गया उसके बाद ये हुआ कि लोगों ने सोचा अलग-अलग डिजिट दिखाना अल्फाबेट क्यों दिखाना कुछ मीनिंग फुल चीजे दिखाते है यहाँ पर एक recaptcha बनाया गया एक कंपनी ने इसको डिजाईन किया इसका motiv यह था की भैया फालतू की चीजे दिखने से अच्छा है कुछ words दिखाते है इन लोगों ने क्या किया जितनी सारी बुक होती है मार्केट में सारी बुक्स को स्कैन करा तो देखो एक टेक्नोलॉजी और है इसको बोलते है OCR इससे यह होता है अगर आपको इमेज दिखाते हो कंप्यूटर को जो स्कैन करके बता सकता हो उसे text में convert कर लेता है तो इससे दिक्क़त यह थी की जो हम चीजे दिखा रहे थेे अगर वह convert कर लेगा तो मतलब क्या हुआ दिखाने का सबको तो इन लोगो ने क्या किया जितनी बुक्स थी सबको इन्होने फटाफट स्कैन कर डाली और कंप्यूटर को बोला पढ़ पढ़ कर बता तू क्या क्या पढ़ पढ़ प् रहा है क्या क्या नही पढ़ प् रहा है

 

तो कंप्यूटर ने बहुत सारे words ऐसे बताएं जो वह नहीं पढ़ पाया उन words को उठा उठाकर CAPTCHA में डाल दिया तो अगर वह कंप्यूटर नहीं पढ़ पा रहा है तो कोई उसको जो है वह ऑटोमेटिकली टैक्स में convert नहीं कर पाएगा तो उसके बाद जो CAPTCHA का recaptcha कर रही थी अब क्या बना उसमें आपको बुक्टस के words दिखाए जाते थे और उसको थोड़ा टेडा मेडा कर दिया जाता था ताकि पता नहीं चल पाए तो यह सब चीजें चलती रही
उसके बाद 2009 में गूगल आया गूगल के सामने भी चुनौती थी कि कैसे वह चीजें रुके जो स्पैमिंग हो रही है गूगल में सर्च इंजन में या फिर जीमेल आईडी में उसने क्या करा recaptcha जो कंपनी है

उसी को ही खरीद लिया तो 2009 में रीकैप्चा बिक गई गूगल के पास अब गूगल ने अपना दिमाग लगाए किसको और कितना अच्छा बनाया जाए बार-बार लोगों से टेक्स्ट लिखवाना बहुत गलत बात है मतलब लोग इसके परेसान होते हैं टाइम वेस्ट होता है यहां पर गूगल कुछ कर पाता उसके पहले बहुत सारी कंपनियां मार्केट में आगयी ओ ये बोलने लगे बंदे बिठा दिया भर भर के पूरा कॉल सेंटर टाइप के बंदे बैठा दिया और लोगों ने बोल दिया कि उन कंपनी का पैसा दोगे तो ऑटोमेटिकली आपके कैप्चा बुक सॉल्व करके देंगे तो उसके लिए screept बन गयी जब कैप्चा उनके पास चले जाता तो उसकी इमेज भरते थे ऑटोमेटिकली वो चीजें बाईपास हो जाती थी

तो यह paid सर्विस बन गई
कैप्चा भरवा लो कैप्चर भरवा लो पैसे कमा लो उसके बाद क्या हुआ गूगल है दिमाग लगाया कि बार-बार इतनी सारी लिखने से अच्छा है कुछ और इसको एडवांस बनाएं जाये गूगल ने फिर एक नया कैप्चर लॉन्च किया गया जिसका नाम बोला गया No CAPTCHA रीकैप्चा इसके मतलब यह है कि आपने आजकल देखा होगा आज कल ऐसी के आपको गूगल की वेबसाइट पर मिलेंगे जिसमें लिखा होता है आई एम नॉट रोबोट इसमें यह है कि आपको बस यहाँ पर क्लिक करना वहां पर आकर राइट लिखा आ गया ग्रीन color में तो आप जो है उस लेवल को पार कर सकते हैं औ
आपके दिमाग में यह होता होगा अगर मैं क्लिक कर सकता हूं तो रोबोट भी क्लिक कर सकता है screept भी क्लिक कर सकती है तो यहां पर दिक्कत यह है कि जब आप उस पर क्लिक करते हैं तो बहुत सारी इनफार्मेशन आपके कंप्यूटर से आपके मोबाइल से उठाकर वह गूगल के पास जाती है

क्या-क्या जाती है आपका आईपी एड्रेस जाएगा आपकी country का लोकेशन जाएगा सिटी की लोकेशन जाएगी आप जब उस पर click कर रहे थे तब तक आपका कर्सर किस मूवमेंट के थ्रू आया क्या वह सीधा आया य बिल्कुल स्टेट आया कैसे आया वह सारी इनफार्मेशन जाती है उस पेज पर अपने कितनी बार scrool करा कितनी देर से उस पेज पर आप हो यह सारी इनफार्मेशन के साथ वो

इंफॉर्मेशन जाती गूगल के सर्वर पर उसके गूगल के सर्वर में मशीन लर्निंग यूज होती है और पता लगाया जाता है कि यह जो चीजें आ रही है बिहेवियर आ रहा है आ
उस पर क्लिक करने का वह एक ह्यूमन का है की रोबोट का है तो अगर 95% भी अगर गूगल के सर्वर को लगता है यह ह्यूमन है

तो वह click कर देगा ऑटोमेटिकली आप उसके आगे चले जाओगे लेकिन अगर उसको 5 से 10 second भी लगता है कि वह बाट है तो वह ऑटोमेटिकली आपको वहीं पर रोक देगा फिर आपको इमेजेस दिखाई जाएंगी तब आपसे पूछा जाएगा कार को पॉइंट करो बस को पॉइंट करो सिग्नल को पॉइंट करो उस हिसाब से अगर आप एक दो बार करोगे उसको वेरीफाई करोगे तो आपकी ip भी जो वाइट लिस्ट कर देगा
अगली बार से आपके लिए भी उठाएगा इस तरीके से जो है नया captcha बन गया जिसको नो कैप्चा बोला गया जिसमें कुछ भरना नहीं है आपको क्लिक लिख लिख कर के सारे जी से जुड़े को फॉलो करना यहां पर जो कैप्चा है कि बहुत सारी मतलब इतना से बोल सकते हो मसीहा है सारी वेबसाइट का सारे फ्रूड्स रोकने का क्यूकी क्या होता है जो screepts होती है वह कुछ भी कभी भी आप बना सकते हो अब आपको खुद सोचना कि अगर आपकी वेबसाइट पर साइन अप दे रहे हो कुछचीजे एसे दे रहे हो को फॉर्कम दे रहे हो filap करने के लिए और किसी ने screept बना दी भर भर के रातों-रात करोड़ों लाखों request अ करके आपका पूरा

डेटाबेस भर जाएगा तो आप भी आपकी वेबसाइट पर देखो क्या अपने साइन अप पर captcha दिया है कि नहीं दिया है तो उसके screept बन सकती है
आगे जाकर और किसी का आपसे दुश्मनी होगी आपकी वेबसाइट को बंद करना होगा

डाटाबेस फुल करना होगा तो ये सारी screepts बनाकर पूरा भर देगा तो पहले से ही प्रिकॉशन ले लो ताकि कोई कैप्चा भी अगर आप लगाते हो की वेबसाइट में उसको बायपास ना कर सके तो यहां पर जो अलग-अलग वेबसाइट हैं अलग-अलग कैसे यूज़ करती है फेसबुक ने खुद का captcha बनाया हुआ है गूगल में यह रीकैप्चा चलता है उसके बाद अगर आप आईआरसीटीसी पर जाएं एनल पिक captcha चलते है पैसा देता है
captcha भरने का आईआरसीटीसी वेबसाइट जो इससे भी कमाती है उसके बाद यह captcha से भी कमाती है जो भी आप वेबसाइट विजिट करते हो वो जो captcha भरवाते है उसको सही सही भरना पड़ेगा नहीं करोगे तो आपको रोबोट मानेगा वैसे वो जो भरवा रहे है अगर आप नहीं भर पाते हो तो पहले आप जाइए मिरर के सामने अपने आप से पूछिए कि आप एक ह्यूमन हो या रोबोट हो तो!

अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगे तो प्लीज आप इसे दुसरो के साथ साझा करे जिससे ये जानकारी दुसरो तक भी पहुँच सके l
थैंक यू

Subscribe to the newsletter news

We hate SPAM and promise to keep your email address safe

1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: Best Phone Under 15000 Of 2020 : Top 5 Smartphones » HelpAjtak

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top
EnglishHindi